भाई की दीवानी


मैं सोच रही थी कि दिल्ली के बारे में दीदी से ढेर सारी बातें पूछूंगी लेकिन दीदी अपने अलग बैडरूम में जा कर लेट गयी और फ़ोन पर बातें करने लगी। मैं जो सोच रही थी, उससे कहीं बहुत अलग विचार हो गए थे दीदी के। इसी सोच-विचार में और दिन भर की थकावट की वजह से मेरी आँख लग गयी।

सुबह 9 बजे मेरी आँख खुली तो देखा कि निकिता दीदी नहा धोकर कहीं जाने की तैयारी कर रही है।
मैंने पूछा- दीदी, आप कहीं जा रही हो?
तो दीदी ने कहा- मैं दोस्तों के साथ घूमने जा रही हूँ। शाम को 7 बजे तक आ जाऊँगी और हाँ तुम्हारे लिए खाना रखा है, खा लेना।
मुझे कुछ अच्छा नहीं लग रहा था।

मैंने फ्रेश होकर बाथ लिया और नाश्ता किया। घर पर अकेली ही थी मैं, तो बोर हो रही थी। शाम को दीदी अपने साथ खाना लेकर आई और मुझे खाना देकर बोली- खाकर सो जाना।
मेरे साथ गैरों वाला बर्ताव हो रहा था।
इसी तरह मैंने दो दिन गुजारे।

अगले दिन जब सुबह उठी तो दीदी घर पर नहीं थी। मुझसे यहां रुका नहीं जा रहा था; मैं खुले पहाड़ों में रहने वाली … यहां की घुटन सहन नहीं हो रही थी। मैंने कपड़े पैक किये और बाथ लिया। वापस घर जाने की तैयारी की लेकिन मुझे रास्ता भी नहीं मालूम था। मैंने बुआ जी के लड़के संजय को कॉल किया और उनको सब बताया तो उन्होंने कहा- आप यहीं रुको, और मुझे अपने अपार्टमेंट का नाम बताओ, मैं खुद लेने आऊंगा आपको! क्योंकि मैं खुद दिल्ली में हूँ और आज शाम को घर जाऊंगा।

मैंने अड्रेस मेसेज किया और भाई 1 घण्टे में एड्रेस पर पहुंच गए। मैंने उनको अंदर बुलाया और पानी पिलाया। मैं चाय बनाने के लिए रसोई में गयी तो भाई भी मेरे साथ आ गए और घर के बारे में और निकिता दीदी के बारे में पूछा।
फिर हमने चाय पी और बातें करने लगे।

भाई ने बताया- मैं यहाँ किसी काम से आया हूँ और यहां होटल में ठहरा हूँ. अगर तुमको अभी चलना है तो अभी चलो, या फिर दोपहर बाद चलेंगे, तब तक मैं नहा लूंगा।
मैंने कहा- नहा लो।
तभी भाई बोले- दो महीने हो गए, आज मेरे साथ नहीं नहाओगी?
मैने हाँ कर दी क्योंकि इन दो महीनों मैं मैंने अपनी चूत को छुआ तक नहीं था, मेरा भी मन हो रहा था।

तो मैंने पहले पापा को कॉल किया- मैं वापस जा रही हूँ, यहां मेरा मन नहीं लगता। और संजय भाई जी आये हुए हैं, उनके साथ जा रही हूँ।
तब पापा ने अनुमति दी घर जाने की और संजय से बात की।

तभी भाई ने मेरा हाथ पकड़ कर मुझे अपने सीने से चिपका लिया और मेरे माथे पर किस करते हुए बोला- चलो अब बाथरूम में!
मैं वहीं उनसे चिपके हुए खड़ी रही।
तब संजय ने मुझे अपनी बाँहों में उठाया और बाथरूम में ले गए। बाथरूम में मैंने एक एक करके संजय के सभी कपड़े उतार दिए और संजय ने भी मुझे बिल्कुल नंगी कर दिया।

मेरी चूत पर बाल थे तो संजय ने कहा- इनको साफ तो कर लेती?
मैंने कहा- भाई, आप कर दो।
तभी संजय ने कहा- चलो निकिता के रूम में … वहां शायद क्रीम मिल जाये।
दीदी के रूम में से क्रीम लेकर हम वापस बाथरूम में आ गए और भाई ने चूत को पानी में भिगो कर क्रीम लगा दी।

15 मिनट तक भाई मेरे होंठ चूसते रहे और मेरी चूचियाँ दबाते रहे। फिर भाई ने चूत से क्रीम को साफ किया जिससे मेरी झांट के बाल भी बिल्कुल साफ हो गए और एकदम से गुलाबी चूत भाई के सामने थी।
भाई ने मेरा मुख शॉवर की तरफ कर के थोड़ा आगे को झुक दिया और मेरे हाथों को दीवार से सटा दिया और मेरे पीछे आकर अपने लण्ड को मेरे कूल्हों के बीच में सटा कर शावर चला दिया।
भाई अपने हाथों को मेरी चूचियों पर रख कर सहलाने लगे। मेरी पीठ पर किस करते तो कभी मेरी गर्दन पर और जोर से चूचियों को मसलने लगे।

मैं सातवें आसमान पर थी। मैं शब्दों में बता नहीं सकती कि मुझे कितना मज़ा आ रहा था।

तभी भाई अपना लण्ड मेरी चूत और गांड पर रगड़ने लगे और अपने होंठों को मेरे कान के पास लाकर धीरे से बोले- यार मोनिका, डाल दूँ क्या?
मैं- हाँ भाई, डाल दो।
संजय- कहाँ?
मैं- जहां आपको अच्छा लगे।
संजय- मुझे ही अच्छा क्यों … तुमको भी तो अच्छा लगना चाहिए ना!
मैं- जहां आपको अच्छा लगे, वहां मुझे अच्छा लगेगा।

संजय ने धीरे से मेरी गांड पर लण्ड रख कर दबाव बनाया तो लण्ड का सुपारा अंदर चला गया।
मुझे बहुत दर्द हुआ मेरी आँखों से आंसू निकल आये।

तभी संजय ने मेरे दर्द को समझते हुए लण्ड बाहर निकाल लिया और मेरी चूत में डालने लगे. मुझे हल्का हल्का दर्द हुआ क्योंकि मुझे दो महीने हो गए थे सेक्स किये हुए।
हम दोनों बहन भाई शॉवर के नीचे कुछ देर यूँ ही खड़े रहे।

Pages: 1 2 3

Dont Post any No. in Comments Section

Your email address will not be published. Required fields are marked *


Online porn video at mobile phone


pel diyanangi behansex stories hyderabadbaap ne beti ko choda kahaniindiansex stories incestantevasin in hindiantarasnacolleague sex storiesmaa ki mast chutchodan story hindideso kahanipapa sex kahaniaantr vasna combete ne maa ka rape kiyabaap ne beti ko choda hindichudai ka mazaantarvasna.usdesi kahaniyamaa ko maine chodahindi sex stories sitesindiansex stories incestdesi khahaniyamaa ki burbap ne beti ko chodahindi sexy kavitadesi khahaniyadidi ko patayabeti ki chudai hindi mechudai ki mast hindi kahanisandhya ki chutsex stories hyderabadhindi sex stories sitesmaa ne mujhse chudwayabaap se chudiantarvasna with imagehindi sexy storiaspapa ki kahanibehan ko randi banayagaand mararandi ki chudai kahaniantarasnaland or chut ki kahanipapa ne chudwayapapa ne choda storybeti ko pelachachi ko lund dikhayamassage sex storyaantr vasna comantravas storybehan chod storymaa ki chudai story in hindipapa ne chutmassage sex storyhindi sexy kavitachudai ki mast hindi kahaniantarvasna story with photobeti chodasex kahani with imagegigolo in ludhianagirlfriend sex storiesrandi ki kahaanidesi khaniyanpel diyabeti baap chudaimaa ki bursasur ne khet me chodasex kahani hindi photomalkin ki chudai storychachi ki mast jawaninaukrani ka rape kiyadesi sex storebeti baap chudaibaap beti ki chudaimast chudai hindi kahaniantravastra hindi storysexy desi kahanichoti beti ko chodamere bhai ka lundchudai ka mazabeti chudiaunty ko blackmail kiyafull family sex stories in hindisex kahani hindi photoantarvasna sex imagehot navel kiss storieschudai baap beti ki