बीवी के बदले बीवी


मैंने चाची का कमीज़ ऊपर उठाया और उतार दिया, फिर उसकी अंडर शर्ट, फिर ब्रा और फिर सलवार भी खोल। एक मिनट में ही मेरी प्यारी रज़िया चाची मेरे सामने बिल्कुल नंगी खड़ी थी। मैंने चाची को गोद में उठा लिया, देखने में लंबी चौड़ी थी, मगर थी हल्की … उठा कर मैंने उसे बेड पे लेटाया और फिर खुद भी उसके ऊपर जा कर लेट गया।

अपने पाँव से मैंने चाची की टाँगें चौड़ी करी और अपने लंड को उसकी चूत पर सेट किया। फिर होंठों से होंठ जुड़े और एक हल्के से धक्के से मेरे लंड का टोपा रज़िया चाची की फुद्दी में घुस गया। बड़े आराम से गया क्योंकि वो तो पहले से ही पानी पानी हो रही थी।

जब लंड उसकी फुद्दी की गहराई में उतर गया तो अब तो वो खुद भी मेरे होंठ चूमने, चूसने लगी। मगर वो बहुत खामोश थी।
मैंने ही पूछा- रज़िया क्या हुआ, सब कुछ कर रही हो, पर इतनी खामोश क्यों हो?
वो बोली- आज आप मेरे मन के ही नहीं, मेरे जिस्म के भी सरताज बन गए हो। आज मैं खुद इस बात पर यकीन नहीं कर पा रही हूँ, इसीलिए चुप हूँ। मुझे अभी भी यकीन नहीं हो रहा कि जिस लड़के को मैंने अपनी शादी पर अपनी गोद में बैठाया था, आज वो लड़का मेरे जिस्म का मालिक बन गया है। थोड़ा अजीब लग रहा है कि मैं अपने शौहर से दगा कर रही हूँ, क्यों कर रही हूँ। क्या मिलेगा मुझे।

मैंने कहा- रज़िया इतना मत सोचो, सिर्फ ये सोचो कि ये हमारी मोहब्बत का पहला मिलन है और मैं पूरी कोशिश करूंगा कि अपनी मोहब्बत की इस निशानी को तुम्हारे पेट से पैदा कर सकूँ। “आमीन …” कह कर रज़िया मुझ से लिपट गई।

मैं चाचीजान को चोदता रहा। उसकी फुद्दी से फ़च फ़च की आवाज़ आती रही, बहुत पानी छोड़ा उसने भी। मैंने भी अपनी जवानी का रस उसकी फुद्दी में अंदर गहरे तक गिराया। सिर्फ एक बार नहीं उस रात तीन बार मैंने रज़िया की कोख को हरा करने के लिए जद्दोजेहद की। उस रात मेरी और रज़िया की सुहागरात थी।

उसके बाद तो ऐसे बहुत सी रातें आयीं, बहुत से दिन आए। जब भी मौका मिलता, मैंने रज़िया चाची को खूब चोदा, बेहिसाब चोदा।
मेरी मेहनत रंग लाई … रज़िया पेट से हुई। पहले उसके लड़की हुई, दो साल बाद एक लड़का हुआ, उसके बाद एक और लड़का हुआ। तीनों मेरे ही बच्चे।

मगर बाद में एक दिन ना जाने कैसे चाचा को यह बात पता चल गई। उन्होंने मुझे बुलाया, पर न डांटा, न ही कुछ गलत कहा, सिर्फ इतना कहा- तू हमारे खानदान का चश्मो-चिराग है, जो तूने किया, अच्छा नहीं किया, मगर जो भी किया, उसका नतीजा अच्छा निकला। मैं तुझे कुछ नहीं कहूँगा, पर मेरे दिल को बहुत ठेस लगी है, और मैं चाहूँगा कि किसी दिन तेरे दिल को भी ऐसी ही ठेस लगे।

मैंने चाचा की बात को हवा में उड़ा दिया। वक्त बीतता गया। मेरी भी शादी हो गई। मेरी और चाची की यारी बदस्तूर जारी रही।

एक दिन मेरी बीवी को भी पता चल गया। मगर वो कुछ नहीं बोली, धीरे धीरे उसे ये भी पता चल गया कि मेरे और भी औरतों के साथ संबंध है। मैंने कोशिश की कि अपनी बीवी ज़रीना को भी इसी दलदल में खींच लूँ कि चाची और बीवी या बीवी और मेरी कोई माशूक एक साथ मेरे साथ हम बिस्तर हों।
मगर मेरी बीवी नहीं मानी।

और वक्त बीता, मेरे बच्चे हो गए, बच्चे बड़े भी हो गए। मेरे अपनी बीवी की एक सहेली के साथ भी नाजायज ताल्लुकात हो गए। बेशक वो मेरी बीवी की बहुत अच्छी दोस्त थी, मगर बीवी को जब पता चला तो उसे बहुत नागवार गुज़रा और वो मेरे से बहुत नाराज़ हुई। हमारे घर में बहुत झगड़ा भी हुआ। गुस्से में मैंने अपनी बीवी पर हाथ भी उठा लिया।

अब देखा जाए तो मेरी भी उम्र 50 साल की हो गई थी, मेरी भी कोई उम्र नहीं थी ये सब करने की। मगर अब दिल का क्या करें।
घर में झगड़ा बढ़ा तो चाची को पता चला। हम मियां बीवी में तो बोलचाल ही बंद थी क्योंकि दिक्कत ये थी, जो भी मैं करता था, घर से बाहर करता था, मगर इस बार बीवी ने मुझे उसकी सहेली के साथ उसके ही बेडरूम में नंगी हालत में देखा था। उसे गुस्सा इस बात का के मैंने कैसे किसी औरत को उसके बेडरूम में बुला लिया, जहां सिर्फ उसकी ही हुकूमत थी।

फिर एक दिन सलामत चाचा आए। हमारे घर का झगड़ा अब उनके कानों तक भी पहुंचा। मेरी बीवी उनके गले से लग कर बहुत रोई।
उन्होंने उसे चुप कराया और अपने घर ले गए कि कुछ दिनों में जब मामला थोड़ा ठंडा हो जाए, तो फिर से वो हमरे बीच सुलह सफाई की कोशिश करेंगे।

मगर मुझे न जाने क्यों लगा कि चाचा मेरी इस हालत पर अंदर ही अंदर खुश हैं।

Pages: 1 2 3 4

Dont Post any No. in Comments Section

Your email address will not be published. Required fields are marked *


Online porn video at mobile phone


maa ki chudai story in hindidesikahaniyanchachi ko lund dikhayarandi chudai storymast chudai kahani in hindiantravas storyindiansexstroieshot deshi kahanibeti ki pantychachi ki mast jawanibaap beti ki chodaibaap ne choda beti kobhai ne chodahot deshi kahaniपहला सेक्सantarvasna sex imagesasur ne khet me chodapapa sex kahanixxxsex storypapa ne choda storymaa ki chut kahanimom ko choda hindi storydesi khaniपहला सेक्सindian sex stormere bhai ka lundsex desi kahanihot deshi kahanipapa ne beti ko chodawww desisex stories commalkin sex kahanibaap ne beti ko choda hindi kahanibahu ki chudai storydesisexkahanichudai ki mast hindi kahaniantravas storybaap ne beti ko chodachutkikahaniyanangi behanindiansextoriesbaap ne beti ko choda hindi storysex kahani mami kidesi sex storeindian desi sex kahanisab ko chodaantarvasna story with imagewww desi sex stores comrandio ki kahanibhai ka lundsexy desi khaniyamaa ki burpel diyamoti gand sex storychodsnmama ne chodamast chudai hindi kahanipornstory in hindibaap ne beti ko choda sex storysardi me chodawww desisex stories compapa ne choda in hindidesi porn kahanipapa ne choda in hindibaap beti ki chodaideso kahanimalkin ki chudai ki kahanichutkikahaniyamalkin ki chudai kahanipakistan sex storieschudai baap seindiansexstroiesbaap beti ki chudaipapa ne choda hindi kahaniantarvassna hindi story 2014baap ne beti ko chudwayama ka burbur me khujlipadosan ko chodabahu ki chudai storyantarvasna indian sex storyma beta ki sex storymararhi sexy storydesi kahani sexyantar wasna stories wallpaperdesi kahaniyapapa ne choda hindi kahanimaa ki chudai ki kahani hindipuja ko chodachudai ki historybiwi ka rapepuja ko chodadesi khahaniyachodan story hindisex desi kahani