दोस्त के भाई की शादी में सुहागरात


मैं यह सुनकर दंग रह गया. मैंने दीपक से चौंकते हुए पूछा- यह तुम क्या कह रहे हो? तुमने अपनी भाभी को चोदा है?
“हां यार … मैं सच कह रहा हूं!” दीपक बोला.

मैं यह सुनकर आश्चर्यचकित था. मुझे अपने कानों पर विश्वास नहीं हो रहा था. थोड़ी ही देर में मैं और चौंक गया जब दीपक ने मुझसे यह कहा- क्यों, तू इतना क्यों पूछ रहा है? तुझे भी मेरी भाभी को चोदना है क्या?
यह सुनते ही मैं और दंग रह गया और दीपक ठहाके मार मार के हंसने लगा.

मुझे लगा कि दीपक मजाक कर रहा है तब मैंने भी मजाक में ही हां कह दिया.
तब दीपक ने कहा- ठीक है मेरे दोस्त, तुम्हारी यह तमन्ना बहुत जल्द पूरी हो जाएगी.
तो मैंने भी हिम्मत जुटाकर बोल दिया- वह कैसे?
“यार मेरे मंझले भैया की शादी होने वाली है, जिसमें मैं छुट्टी लेकर घर जाने वाला हूं. और कमाल की बात यह है कि गर्मियों की छुट्टी में शादी होने वाली है तो तुम्हें भी छुट्टी होगी. तू मेरे भैया की शादी में मेरे साथ चलना; तब तुम्हारा काम बन जाएगा, मैं तुम्हारी हसरत पूरी कर दूंगा.”

मैं मन ही मन बहुत खुश हो रहा था कि मुझे खूबसूरत औरत को चोदने को मिलेगा। एक ही बार में मैं भाभी चोदने जा रहा था। आजतक मैंने किसी की भी चुदाई नहीं की थी और मुझे पहली बार में ही एक खूबसूरत औरत मिल रही थी।
पर मैं थोड़ा घबराहट में भी था कि पता नहीं उनसे मिल कर क्या होगा, वह मुझसे चुदावाएँगी या नहीं?
या मैं एक 26 साल की औरत को चोद पाऊंगा या नहीं?
वो तो मुझसे 6 साल बड़ी हैं उन्हें तो मुझसे ज्यादा चुदाई का अनुभव होगा।

लेकिन मैं फिर सोचता हूं कि जब मेरा दोस्त दीपक उनसे 7 साल छोटा होने के बावजूद अपने भाभी की अच्छी चुदाई कर देता है। तो मैं तो दीपक से 1 साल बड़ा हूं और मधु भाभी से सिर्फ 6 साल छोटा हूं तो मैं तो मधु भाभी कि मस्त चुदाई कर सकता हूं. और रही बात कि भाभी मुझसे चुदवायेगी या नहीं? तो पहली बात तो कि जब वह दीपक से चुदवा सकती हैं तो किसी और गैर मर्द से चुदवाने में वह बिल्कुल नहीं हिचकेंगी और भाभी मुझसे चुदवा लेगी. और अगर दीपक उनसे कहेगा तब तो फिर मधु भाभी मुझसे खूब प्यार से चुदवायेंगी और अपना सारा यौवन मुझ पर लुटा देंगी।

मैं खुशी-खुशी दीपक के साथ गर्मियों की छुट्टी में उसके मंझले भैया की शादी में मथुरा चला गया और अपने घर वालों को बता दिया कि मैं अपने फ्रेंड की भैया की शादी में जा रहा हूं।

जब मैं मथुरा पहुंचा तो दीपक का बड़ा हवेली जैसा घर देखकर दंग रह गया। राजा महाराजा के घर जैसा लग रहा था, जैसे फिल्मों में ठाकुरों और नवाबों की हवेली होती है, वैसे ही लग रही
थी।
पर मेरी नजर तो उस यौवन की रानी मधु भाभी के सुंदर और सेक्सी बदन को ढूंढने में लगी हुई थी। घर के भीतर जाते ही दीपक के माता-पिता और भैया से मुलाकात हुई। पर अभी रूपसुंदरी मधु भाभी का दर्शन नहीं हुए थे।

हम लोग बाहर हॉल में सोफे पर बैठे थे और चाय नाश्ता आ गया था। सभी आपस में बातें करने लगे, सभी मुझसे मेरे बारे में पूछ रहे थे कि मैं कहां से हूं, मेरा क्या नाम है.
मैंने अपने बारे में सब कुछ बता दिया।

बहुत देर हो गई थी और मधु भाभी के दर्शन अब तक नहीं हुए थे, मेरा धीरज अब खोने लगा था। मुझे लगा कि कहीं दीपक झूठ तो नहीं बोल रहा था।
और जब बहुत देर हो गई तब मुझे यकीन होने लगा कि दीपक झूठ बोल रहा था; उसकी ऐसी कोई भाभी है ही नहीं। जरूर दीपक ने मुझे अपनी झूठी भाभी की झूठी सुंदरता की व्याख्या करके मुझे यहां बुला लिया है। दरअसल उसे अपने भैया की शादी में मुझे शरीक करना था इसलिए उसने भाभी की झूठी सुंदरता और यौवन का बखान मेरे सामने किया।
मैं अपने आप को बेवकूफ बना हुआ समझ रहा था कि दीपक देना मुझे बेवकूफ बना दिया।

पर अब मैं यह सोच रहा था कि दीपक मेरे बारे में क्या सोचेगा कि उसने झूठ बोला और मैं उसकी भाभी को चोदने के लिए उसके घर चला आया। मैं अपने आप में शर्म महसूस कर रहा था कि तभी पायल की खनक सुनाई दी मुझे; मैंने सीढ़ी की ओर घूम कर देखा तो मेरा मुंह खुला का खुला रह गया.
एक अप्सरा सी सुंदर औरत हल्का लाल चटकदार लहंगा और हल्का लाल रंग के ब्लाउज पहने हुए अपनी कमर मटकते हुए नीचे उतर रही थी। मेरा दिल धक धक धक धक कर रहा था।

मधु भाभी की मटकती हुई गोरी दूधिया कमर देख मेरी आंखें चमक उठी, वाह … क्या लाजवाब कमर है। मेरा मन मेरे काबू में नहीं था। मेरा हाथ अपने आप हिलने लगा और इस तरह थरथर कांपने लगा कि मन कर रहा था कि दौड़कर मधु भाभी के पास जाऊँ और उनकी कमर को अपने हाथों से पकड़ लूं और जोर से उन्हें अपने गोद में उठा लूं। मेरा मन तो उनकी गांड को पकड़कर अपने गोद में उठा लेने को हो रहा था। मैं बता नहीं सकता कि मैंने मुश्किल से अपने भावनाओं पर से काबू किया। उफ़ उनकी ये मुस्कुराती हुई गुलाबी होंठ, उनके ऊपर नीचे डोलते बूब्स। मुझे तो रहा नहीं जा रहा था। तभी मैंने महसूस किया कि मेरे पैंट में 6 इंच का लन्ड खड़ा हो गया है। मैंने बहुत मुश्किल से अपने पैंट में खड़े लंड को छुपा या।

Pages: 1 2 3 4 5 6 7

Dont Post any No. in Comments Section

Your email address will not be published. Required fields are marked *


Online porn video at mobile phone


papa ne chutmaa ki sexy kahanigigolo in ludhianaantarvasna imagesantarvasna.usjyothika kissgigolo story in hindibeti chodamoti maa ko chodapel diyaantarvasna indian sex storyantarvasana imagesmaa ka rapegaand mesex kahani indiansex kahani indianhindi sex story maa betadidi k sathwww desi sex stores comhot navel kiss storiesantarvastra story in hindi with photosma ka rape kiyagigolo in ludhianaantarvasna desi sex storiesmastram ki sexy kahanidesisex storydeshikahanineha ko chodaanti antarvasnapela peli storyantervasna imageschodan story hindimararhi sexy storymaa ko pelagaand medesikahaanihindi sexy kavitama ka burchut ka giftmene chodapapa ko chodamassage sex storyma ki gaandanter vasena comantarvasna desi sex storiesdesi khanixxxsex storyjeth bahu ki chudaiवो मजे से मेरे दूध दबा रहा था जैसे कोई मुसम्मी का रस निकालhot love making storiesdesikahaaniantarvastra story in hindi photospapa se chudai ki kahanisasur ne khet me chodaantarvasna sex photoschudai baap betijyothika sex storiesjyothika kissbeti chodasexy desi kahanibeti ne baap ko patayamaa ki chudai ki kahaniyapyasi bhabhi storybeti ki pantywww desisex stories comsex desi kahaniantarvasna indian sex storysardi me chodabeti ki burantervasna imageschodsnbaap ne beti ko gift diya puzzledesi kahaniyadeso kahanidesi kahnimassage sex storybhai ka lundbaap ne beti ko choda storymausi ne