दोस्त के भाई की शादी में सुहागरात


मैंने भाभी की ब्रा भी उतार दी और मंगलसूत्र भी। अलग रखने के बाद मैंने बड़े ध्यान से भाभी के स्तनों को देखा। पहली बार मैं किसी जवान और खूबसूरत औरत के बूब्स देख रहा था।
अब देर न करते हुए मैं भाभी के बूब्स को अपने मुंह से चूसने चाटने लगा; उम्म आह ओह की आवाज़ फिर से कमरे में गूंजने लगी।

मैंने भाभी को ऊपर से लेकर नीचे तक पूरा चूसा चाटा जिसमें भाभी के दोनों गाल, नाक, लिप्स, ठोडी, गला, छाती, दोनों स्तन, पेट, कमर, चूत, गांड, दोनों घुटने, पैर के ऊपरी और निचले हिस्से यानि हर तरह से भाभी को चूसा, चाटा, रौंदा, रगड़ा और अपने शरीर से उनके शरीर को सटाया सहलाया।

अब मधु भाभी ने मुझे अपने दोनों हाथों से पकड़ लिया। मैंने अपने 6 इंच का कठोर हो चुके लंड को भाभी की चिकनी चूत पर रखा और रगड़ने लगा। हम दोनों को ही मज़ा आ रहा था। अपने लंड से भाभी की चूत पर घर्षण करने के बाद अब मैंने भाभी की चुदाई करने की सोची।
चूंकि यह मेरा पहली बार था तो मैंने हल्के से झटका दिया, मेरा लंड थोड़ा अन्दर घुसा, उसके बाद मैंने झटके को तेज करना चालू कर दिया। अब भाभी की चुदाई शुरू हो चुकी थी। मैं अपने लंड को और ज्यादा अंदर तक घुसाने में लगा हुआ था और उधर मधु भाभी अपने दोनों हाथों से मेरे गांड को दबा रही थी और अपनी गांड भी नीचे से ऊपर की ओर उछाल रही थी।

मेरी उत्तेजना बढ़ती जा रही थी। मुझे यकीन नहीं हो रहा था कि मैं अपने दोस्त की मधु भाभी को चोद रहा हूं। मैं किसी औरत को चोद रहा हूं और वो भी शादीशुदा औरत को।
इस कामुक माहौल में मैं जोर जोर से भाभी की चूत में धक्के लगाने लगा।

“आह … आह … और चोदो, और चोदो … मज़ा आ गया … इतनी मस्त चुदाई तो आज तक मेरे पति ने भी नहीं की जितना कि तूने की है मेरे छोटू देवर!” मधु भाभी ने कहा।
“अच्छा छोटू देवर? तू अब इस छोटू देवर का कमाल देख!” ऐसा कहते हुए मैंने और जोर से धक्के देना शुरू किया और भाभी की चुत में मेरा पूरा 6 इंच का लन्ड अंदर बाहर हो रहा था। मैं भाभी की चिकनी चूत में धक्के पर धक्का देता रहा और भाभी की चुदाई करता रहा, भाभा ‘आह आह … आमह अमह …’ करती रही और मैं भाभी को चोदता रहा।

चोदते चोदते मैं भाभी के स्तन भी दबाता, चूसता और लिपकिस भी करता। आखिरकार मेरे लंड से वीर्य के फव्वारे निकले और हम दोनों के मुंह से एक साथ निकला- आह…ह!
और मैं जोर जोर से झटके मारते हुए भाभी के नंगे वक्ष पर ही लेट गया।

इतनी कामुक और जबरदस्त चुदाई के बाद हम दोनों ही एक दूसरे की बांहों में सो गये। रात के करीब 10 बजे हम दोनों को होश आया और हम दोनों अपने अपने कपड़े पहन कर बाहर आ गये, नीचे आये तो देखा कि प्रोग्राम अब बंद ही हुआ है।

हम दोनों एक दूसरे को देखकर मुस्कुराये जा रहे थे।

जब सब सोने जाने लगे तो तभी मेरे घर से फोन आया कि घर पर दादा जी की तबियत खराब है, जल्दी घर आ जाओ।
मैंने यह बात सभी को बतायी तो सभी को बुरा लगा, खासकर मधु भाभी को।
पर मैं खुश था कि जिस काम के लिए आया था, वह हो गया। सुबह होते ही मुझे जाना था.

सोते समय दीपक ने कमरे में आते ही कहा- क्यों मना ली सुहागरात मधु भाभी के साथ?
मैं- तुम्हें कैसे पता कि मैंने मधु भाभी को चोदा है?
दीपक- मैंने खिड़की से सब देख लिया। शुरू से लेकर अंत तक सब कुछ। अरे यार, तुम इसी काम के लिए तो आये थे न! पर दुख इस बात का है कि मैं अभी तक भाभी को नहीं चोद पाया।
मैं- अरे तो क्या हुआ, तुम तो रोज भाभी को चोदते ही हो। कल चोद लेना। अच्छा बताओ भाभी को चोदते हुआ मैंने देखा कि उनकी चूत के ऊपर कोई तिल नहीं था।
दीपक- क्योंकि मैंने तुमसे झूठ बोला था यार! मैंने कभी भी अपनी भाभी को चोदा ही नहीं है।

यह सुनकर तो मेरे पैरों के नीचे से जमीन खिसक गई। मैं बोला- मुझे लगा कि भाभी को तुमने भेजा मुझसे चुदवाने लिए। बाप रे बाप … इसका मतलब मैंने भाभी को पटाकर चोदा। अगर वो नहीं मानती तो मैं तो बदनाम हो जाता।
दीपक उदास था तो मैंने कहा- उदास मत हो, मैंने भाभी को पटा लिया है. कल जाते वक्त मैं तुम्हारे लिए उनको सेट करके जाऊंगा।

अगली सुबह होते ही मैं तैयार होकर अपना समान पैक कर जाने वाला था कि तभी भाभी हमारे कमरे में आई और बोली- ओह तो जा रहे हो?
दीपक भी कमरे में ही था।
मैं- हाँ भाभी … पर मैं चाहता हूं कि जो चुदाई आपने मेरे साथ की है, वह आप मेरे दोस्त दीपक के साथ भी करें। आपका अपना देवर है, आप उस पर अपना यौवन लुटाइए। मेरी बात सुन घबराइए नहीं भाभी, दीपक भी यह सब जानता है। यह आपके साथ की झूठी चुदाई की कहानी बता कर मुझे अपने घर लाया था। लेकिन मैंने तो आपके साथ सच में चुदाई कर ली। यह सोच कर दीपक उदास है।

Pages: 1 2 3 4 5 6 7

Dont Post any No. in Comments Section

Your email address will not be published. Required fields are marked *


Online porn video at mobile phone


chudai baap beti kibhai ne chodamaa ko choda hindi sex storymaa ki chut kahanijyothika mmsnanga pariwarjyothika kissmoti gand storymastram ki sexy kahaniadesi kahaniaantarvasna maa beta storybeti ne baap ko patayabeti chodamama ne chodakamwali ki chudai ki kahanibaap beti ki chudai hindibeti ko patayabaap beti ki chodaihindi sex kahani maa betamalkin ki chudai ki kahanibur me khujliindian sex stories didiवो मजे से मेरे दूध दबा रहा था जैसे कोई मुसम्मी का रस निकालpapa sex kahaniantarvasna imagesma beta ki sex storyantarvasna maa beta storygujarati sex kahaniantarvasna story with imagebaap ne beti ko choda sex storyhindipornstorybhai ka lundsex kahani hindi maamere bhai ka lundindiansextoriesdesi khaniindian sex stobabaji sex storiesdesi maa storyaantr vasna comchut ka giftantarvasna story photosbahu ki chudai storyhindi sex stories sitesbeti antarvasnabeti ko patayarandi kahaniantarvasna maa beta storyantarvasna sex imagemaa ka rapesagi beti ko chodachacha se chudaiindiansexstories.net2desi kahani sexypyasi bhabhi storymaa ko choda hindi sex storybahan ko nanga kiyapapa ne choda storywww indian sex kahani comrandio ki kahaniantravastra hindi storybap ne beti ko chodawww desisex stories comsex kahani hindi maahindi sex story mabudhe ne chodachutkikahaniyagaand memaa ke sath pujaantarvasna maa beta storyantarvasna desi sex storiesrandi kahanididi k choda