जीजू ने दीदी को अपने दोस्त से चुदवाया


दीदी- बहुत पसन्द आया. अनन्त जी ने तो मेरी चूत की सारी तमन्ना पूरी कर दी. मैं तो बहुत थक गई हूं।
अनन्त जीजू हँसते हुऐ बोले- नहीं जी, तुमने पूरी रात चुदवाने का वादा किया था, अभी तो रात बहुत बाकी है।

फिर अनन्त जीजू और विनय जीजू दोनों दीदी से लिपट गये. विनय ने मेरी दीदी की के चूचों को हाथ में ले लिया और उनको दबाने लगे. विनय जीजू कुसुम दीदी के चूचुकों को अपने दांतों से काटने लगे.
नीचे की तरफ अनन्त ने दीदी की चूत में अपनी उंगली डाल दी और उनको अंदर बाहर करने लगे. दीदी की टांगें बेड पर फैली हुई थीं. मैं बाहर खिड़की से खड़ी होकर यह पूरा नजारा देख रही थी.
मुझे डर भी लग रहा था मगर मेरे बदन में एक आग सी भी लगने लगी थी. मैंने अपने बदन पर वहीं खड़ी होकर हाथ फिराना शुरू कर दिया. अनन्त ने मेरी दीदी की चूत में उंगलियों की रफ्तार को तेज कर दिया.

मेरी दीदी के मुंह से कामुक सिसकारियां निकलना शुरू हो गईं. दीदी अपने हाथों को पीछे बिस्तर की तरफ ले जाकर बेड के सिरहाने को पकड़े हुए थी. दीदी की टांगें अनन्त की उंगलियों की रफ्तार के साथ और ज्यादा फैल रही थीं.
जब कुछ देर के बाद मैंने अपनी सलवार के ऊपर अपनी पैंटी पर हाथ लगाया तो मेरे बदन में एक सरसरी सी दौड़ गई. मेरी चूत में पहली बार मैंने गीलापन महसूस किया था. जब अनन्त ने कमरे के अंदर दीदी की पैंटी को मेरे मुंह पर फेंक दिया था तो मुझे उस पैंटी के अंदर से अजीब सी बदबू आई थी. अब मैं समझ गई थी कि यह बदबू कामरस की होती है.

मुझे सेक्स के बारे में ज्यादा कुछ नहीं पता था लेकिन अनन्त और विनय जिस तरह से कुसुम दीदी को अपने नीचे लेटा कर उसके बदन को भोग रहे थे. आज मेरा ज्ञान काफी बढ़ गया था. मैंने पहली बार मर्द के लंड के दर्शन किए थे.
विनय का लंड भी काफी बड़ा था. लेकिन अनन्त के लंड के सामने अगर नापा जाए तो उससे छोटा ही लग रहा था. मेरे चूचों में वहीं पर खड़े-खड़े कुलबुलाहट सी होने लगी थी. मैंने अपनी छाती को वहीं पर दबाना शुरू कर दिया.

जब मैंने अंदर की तरफ दोबारा देखा तो विनय ने अपना लंड कुसुम दीदी के मुंह में डाल रखा था. मेरी दीदी विनय के चूतड़ों को पकड़ कर उसके लंड को अपने मुंह की तरफ धकेल रही थी. विनय ने भी दीदी के बालों को पकड़ा हुआ था और उनके मुंह को अपने लंड की तरफ धकेल रहे थे.
मेरा ध्यान अनन्त पर गया तो उसने दीदी की चूत में अपनी जीभ डाल रखी थी. दीदी अनन्त के सिर को अपनी जांघों के बीच में दबोचने की नाकाम कोशिश कर रही थी क्योंकि अनन्त ने उसकी जांघों को पकड़ कर अपने मजबूत हाथों से विपरीत दिशाओं में फैला रखा था.

दीदी बेड पर बुरे तरीके से तड़प रही थी. अनन्त का लंड बेड के पायदान की लकड़ी पर छू कर बार-बार लग रहा था. उसके लंड में अभी वह पहले जैसा तनाव नहीं था जबकि विनय जीजू का लंड अपने पूरे उफान पर था. उनका लंड किसी डंडे की तरह तनकर कुसुम दीदी के हलक में जाकर लगता हुआ दिखाई दे रहा था. उसके बाद विनय जीजू ने अचानक ही अपने लंड को दीदी के मुंह से निकाल लिया और विनय के हटते ही अनन्त ने भी अपनी जीभ दीदी की चूत से निकाल दी.

अब विनय जीजू दीदी की चूत के पास आ गए थे और अनन्त कुसुम दीदी के मुंह की तरफ चले गए थे. अनन्त के पास जाते ही दीदी ने उसके लंड को पकड़ लिया और अपने हाथ में लेकर उसको सहलाना शुरू कर दिया. कुछ ही पलों के बाद अनन्त का लंड फिर से अपने पहले जैसे तनाव में आकर दीदी के हाथ में भर गया. अनन्त ने दीदी के दोनों तरफ अपने पैरों को रखा और अनन्त की टट्टे दीदी के होंठों के पास आ गये.

दीदी अनन्त जीजू के अंडकोषों को अपने मुंह में लेकर प्यार करने लगी. अनन्त ने अपने हाथों को पीछे लाकर दीदी के चूचों पर टिका लिया और उनको पकड़ने के साथ उनको दबाना और मसलना भी शुरू कर दिया.
नीचे की तरफ विनय जीजू ने दीदी की चूत में अपनी जीभ डाल दी और चूत में उसको अंदर बाहर करने लगे. कुछ पलों तक दीदी की चूत को चाटने के बाद विनय जीजू ने अपने लंड को दीदी की चूत पर रख दिया और उसकी चूत में अपने लंड को अंदर की तरफ धकेल दिया.

दीदी अनन्त के टट्टों के साथ ही चूमा-चाटी में लगी हुई थी. दीदी ने अनन्त के चूतड़ों को अपने हाथों से पकड़ रखा था और वह अनन्त के चूतड़ों की दरार के बीच में उगे बालों में अपनी उंगली को फिरा रही थी. उसके बाद अनन्त ने दीदी के हाथों को अपने हाथों से हटा दिया और एक तरफ आकर दीदी के मुंह में अपने लंड को पेल दिया.
दीदी के मुंह में अनन्त का लंड जाते ही दीदी का चेहरा लाल हो गया. दीदी को शायद सांस लेने में मुश्किल हो रही थी. अनन्त ने अपने लंड को दीदी के मुंह में तेजी के साथ धकेलते हुए अंदर बाहर करना शुरू कर दिया.

Pages: 1 2 3 4 5

Comments 1

Dont Post any No. in Comments Section

Your email address will not be published. Required fields are marked *


Online porn video at mobile phone


beti chudaiantarvasna story with imagesasur ne khet me chodabeti ki chodaihindi sex story papananga pariwarbiwi ka rapemuje chodamaa ki chudai ki kahani hindibudhe ne chodaantravastra hindi storychudai ki historymast chodai ki kahanibadi baji ko chodajyothika mmspela peli ki kahanibudhe ne chodabaap beti ki chudai combaap ne ki beti ki chudaipyasi bhabhi storychudai ki mast kahanimalkin ki chudai storyhindipornstoriesbadi behan sex storydisi kahanisex with sali storybaap ne beti ko chudwayamastram ki sexy kahaniasexkhanibehan chod storypapa ko seduce kiyasexy desi kahanibap ne beti ko chodadidi k chodabhai ke sath suhagraatbadi behan sex storybaap beti ki chudai comsex stories hyderabadbaap ne beti ko choda hindi storymama ne chodahindi sexy kavitamere bhai ka lundwww desi sex stores comantravastra hindi storybhai ka lundhindi sexy kavitachutkikahaniyamast chodai ki kahanimoti gand storysex story maa kipapa ki kahanibaap ne beti ko chodamaa ki chudai ki kahaniyawww desisex stories compapa ne choda hindi kahanisex kahani hindi maama ka rape kiyaindiansex stories incestindian antarvasna imagesbaap beti ki chudai comantarvasna maa beta storychudai ki mast kahanimast chudai kahani in hindimaa ke sath pujachacha se chudaibeti ko chodapadosan ko chodapapa ne chutsasur ne khet me chodamaa beta sex kathafull family sex stories in hindipyasi bhabhi storybaap beti ki chudai comantarvasna with imagebeti ko chudwayapapa ne beti ko chodabeti ko pelasexy desi khaniyadesi kahani sexbehan ko randi banayagaand meantarvasna.usgand antarvasnahindi sex stories sitesmaa beta hindi sexy storiesneha ko choda